Skip Navigation Linksहोम | केंद्र और परियोजनाएं | विश्‍व व्‍यापार संगठन

विश्‍व व्‍यापार संगठन

रिसोर्स सेन्‍टर विश्‍व व्‍यापार संगठन की स्‍थापना पंजीयन फर्म्‍स एवं सोसायटी म. प्र. में पंजीकृत संस्‍था के रूप में प्रशासन अकादमी के तत्‍वाधान में 5 मई 2003 को की गयी है। संसाधन केन्‍द्र की स्‍थापना मुख्‍य रूप से कृषि, वाणिज्‍य एवं उद्योग विभाग, म. प्र. शासन की पहल पर एवं सहयोग से की गयी है।

2. उद्देश्‍य :-

रिसोर्स सेन्‍टर- विश्‍व व्‍यापार संगठन का उद्देश्‍य विश्‍व व्‍यापार संगठन के तत्‍वाधान मे लिये गये निर्णयों का मध्‍यप्रदेश के हित में दोहन, उपयोग तथा समझौतों के प्रभावों का अध्‍ययन करना है। सेन्‍टर के उद्देश्‍य निम्‍नानुसार है :-

  1. विश्‍व व्‍यापार संगठन एवं उसके तहत हुए समझौतों एवं व्‍यवस्‍थाओं के ऐसे मुद्दों की पहचान करना जो राज्‍य के हित मे महत्‍वपूर्ण है। इन मुद्दों का अध्‍ययन एवं विश्‍लेषण कर नीति निर्धारण /नीति सुधार हेतु प्रस्‍ताव तैयार करना एवं संगठन से जुडी़ समस्‍याओं को रेखांकित कर उनके संभावित हल सुझाना।
  2. कृषकों, व्‍यापारियों, लघुउद्यमियों, अधिवक्‍ताओं तथा विश्‍व व्‍यापार संगठन से जुडी़ या प्रभावित शासकीय एवं अशासकीय संस्‍थाओं के लिए सेमीनार एवं प्रशिक्षण का नियमित रूप से आयोजन करना ।
  3. पेटेन्‍ट एवं ट्रेड मार्क के क्षेत्र मे कार्य करने वाले अभिवक्‍ताओं से संवाद कर प्रदेश मे पेटेन्‍ट एवं ट्रेड मार्क पंजीयन को बढा़ना देना।
  4. हितग्राही समूहों के लिए प्रिन्‍ट एवं मल्‍टीमीडिया सामग्री तैयार करना ।
  5. भारत सरकार एवं अन्‍य राज्‍य के शासकीय संगठनों एवं अशासकीय संस्‍थाओं से समन्‍वय स्‍थापित करना ।
  6. मध्‍यप्रदेश के संदर्भ मे समय-समय पर आलेख प्रकाशित करना ।
  7. विश्‍व व्‍यापार संगठन के समझौतों एवं संकल्‍पों का मध्‍यप्रदेश पर एवं विशेषकर प्रदेश की कृषि उपजों एवं अन्‍य उत्‍पादनों पर प्रभाव का आंकलन हेतु अध्‍ययन कराना।
  8. राज्‍य शासन द्वारा समय-समय पर सौंपे गये अन्‍य कार्य ।

3. केन्द्र की संरचना:-

संसाधन केन्द्र की सुचारू कार्य प्रणाली एवं प्रशासन हेतु केन्द्र का मार्गदर्शक मंडल एवं कार्यकारी परिषद स्थापित है।

                 3.1 मार्गदर्शक मंडल (साधारण सभा)

मार्गदर्शक मण्‍डल मे निम्‍नानुसार सदस्‍य है :-

       (क) पदेन सदस्‍य

सभापति – मुख्‍यमंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

उप सभापति –    1. कृषि मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

                        2. वाणिज्‍य एवं उद्योग मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

सदस्‍य               1. वित्‍त मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

                        2. वाणिज्‍य कर मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

                        3. खनिज संसाधन मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

                        4. वन मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

                        5. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री, मध्‍य प्रदेश शासन

                        6. मुख्‍य सचिव, मध्‍य प्रदेश शासन

                        7. महानिदेशक, आर.सी.वी.पी. नरोन्‍हा प्रशासन अकादमी, भोपाल

                        8. कृषि उत्‍पादन आयुक्‍त मध्‍य प्रदेश

                        9. प्रमुख सचिव, मध्‍य प्रदेश शासन वित्‍त विभाग

                        10. प्रमुख सचिव मध्‍य प्रदेश शासन,वाणिज्‍य एवं उद्योग विभाग

                        11. प्रमुख सचिव, मध्‍य प्रदेश शासन, वाणिज्‍य कर विभाग

                        12. प्रमुख सचिव, मध्‍य प्रदेश शासन,खनिज संसाधन केन्‍द्र

                        13. प्रमुख सचिव, मध्‍य प्रदेश शासन, वन विभाग

                        14. सचिव, मध्‍य प्रदेश शासन, कृषि विभाग

                        15. महानिदेशक, मध्‍य प्रदेश विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी परिषद

                        16. प्रबंध संचालक, मध्‍य प्रदेश राज्‍य कृषि विपणन बोर्ड

                        17. प्रबंध संचालक, मध्‍य प्रदेश राज्‍य औद्योगिक विकास निगम

                        18. प्रबंध संचालक, मध्‍य प्रदेश राज्‍य कृ‍षि उद्योग विकास निगम

                        19. उद्योग, आयुक्‍त मध्‍य प्रदेश

                        20. संचालक, कृषि, मध्‍य प्रदेश

                        21. संचालक, लघु उद्योग मध्‍य प्रदेश

                        22. नियंत्रक, खाद्य एवं औषधि प्रशासन

                        23. कुलपति, जवाहर लाल नेहरू कृषि विश्‍व विद्यालय, जबलपुर

                        24. निदेशक, केन्‍द्रीय कृषि इंजिनियरिंग संस्‍थान,नवीबाग भोपाल

                        25. निदेशक, भारतीय मृदा विज्ञान अनुसंधान केन्‍द्र इन्‍दौर

                        26. निदेशक, राष्‍ट्रीय सोयाबीन अनुसंधान केन्‍द्र इन्‍दौर

                        27. निदेशक, क्षेत्रीय विज्ञान एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद 12 हंबीबगज,भोपाल

                        28. वित्‍तीय, सलाहकार म.प्र. भोपाल

ख) नामांकित सदस्‍य   

            1. अध्‍यक्ष, चेम्‍बर आफ कामर्स मध्‍यप्रदेश

            2. अध्‍यक्ष, भारतीय उद्योग परिसंघ

            3. अध्‍यक्ष, सोयाबीन आयल सीड प्रोसेसर्स एसोसिएशन म.प्र.

            4. राज्‍य शासन द्वारा नामांकित विशेषज्ञ/हित समूह के 5 प्रतिनिधि

            5. सदस्‍य सचिव- संचालक सेन्‍टर

3.2 कार्यकारिणी

अध्‍यक्ष- महानिदेशक, आर.सी.व्‍ही.पी.नरोन्‍हा प्रशासन अकादमी,भोपाल

उपाध्‍यक्ष   1. कृषि उत्‍पादन आयुक्‍त, मध्‍यप्रदेश

               2. प्रमुख सचिव, मध्‍यप्रदेश वाणिज्‍य एवं उद्योग विभाग

सदस्‍य-     1. सचिव, मध्‍यप्रदेश शासन, कृषि विभाग

               2. उद्योग आयुक्‍त मध्‍यप्रदेश

               3. संचालक कृषि, मध्‍यप्रदेश

                          4. संचालक, उद्यानिकी, मध्‍यप्रदेश

                 5. प्रबंध संचालक, मध्‍यप्रदेश राज्‍य कृषि विपणन बोर्ड

                            6. प्रबंध संचालक, मध्‍यप्रदेश राज्‍य औद्योगिक विकास निगम

                            7. प्रबंध संचालक, मध्‍यप्रदेश राज्‍य कृषि उद्योग विकास निगम

                        8. शासन द्वारा नियुक्‍त – रिसोर्स सेन्‍टर विश्‍व व्‍यापार संगठन मे नियुक्‍त कृषि,वाणिज्‍य एवं उद्योग, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के अधिकारी

    सदस्‍य सचिव- संचालक/मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी, रिसोर्स सेन्‍टर विश्‍व व्‍यापार संगठन

4. सेन्‍टर के कृत्‍य

विभिन्‍न उद्देश्‍यों की प्राप्ति के लिए सेन्‍टर के कृत्‍य निम्‍नलिखित हैं :-

1. कार्यशाला, सेमीनार एवं प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन करना एवं उनके परिणामों के आधार पर राज्‍य शासन को सुझाव देना ;

2. भारत सरकार, उनके उपक्रम, अशासकीय संगठनों से नेटवर्किग करने के लिए आवश्‍यक कार्यवाही करना ;

3. विश्‍व व्‍यापार संगठन के अन्‍तर्गत हुऐ समझौतों के प्रभाव का प्रदेश के संदर्भ मे अध्‍ययन कराना;

4. विश्‍व व्‍यापार संगठन के समझौतों एवं सम्‍मेलनों का मध्‍यप्रदेश के संदर्भ में प्रचार-प्रसार कराना;

5. उल्‍लेखित उद्देश्‍यों की प्राप्ति के लिए आवश्‍यक कार्यवाही करना ।

5. अनुबंध कार्य:- केन्द्र के अकादमिक कार्य को गति देने के लिए Centre for WTO Studies, Indian Institute of Foreign Trade, नई दिल्‍ली के साथ 03 वर्ष की अवधि का अनुबंध किया गया है । इसमें प्रशिक्षण, अध्‍ययन कार्य, अनुवाद डाटा निर्माण जैसी गतिविधियां शामिल है।

6. अनुवाद कार्य:- संसाधन केन्द्र द्वारा विश्‍व व्यापार संगठन द्वारा प्रशिक्षण कार्यो एवं सरोकार विभागों को विश्‍व व्यापार संगठन से सम्बन्धित पाठ्य सामग्री हिन्दी में उपलब्ध कराने हेतु केन्द्र सरकार के Centre for WTO Studies द्वारा प्रकाशित FAQs का अनुवाद कार्य गत वर्षों में करवाया गया है, जिसका विवरण निम्‍नानुसार है:-

Sr.No.

Name of book

Remark

1.

Trade Related Aspects of Intellectual Property Rights.

सम्‍पन्‍न

2.

Agreement on Safeguard

सम्‍पन्‍न

3.

Agreement on subsidies & Countervailing Measures

सम्‍पन्‍न

4.

Geographical Indications

सम्‍पन्‍न

कार्यरत अधिकारी

क्रमांक

नाम

पदनाम

पता

1

श्री राकेश यादव

मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी

आर.सी.वी.पी. नरोन्‍हा प्रशासन एवं प्रबंधकीय अकादमी, भोपाल, म.प्र. 0755-2445252

 

 

मीडिया गैलरी

प्रमुख गतिविधियाँ

प्रकाशन

केंद्र और परियोजनाएं